18 Aug
2020

➡️CLICK HERE [हिंदी में] जुडिशरी एग्जाम स्कोर बूस्टर 155 लीगल बज्ज ऑनलाइन मॉक टेस्ट • भारतीय साक्ष्य अधिनियम 1872 [INDIAN EVIDENCE ACT 1872] PRE & MAINS EXAM •

Judiciary Exam Score Booster 155 INDIAN EVIDENCE ACT 1872

TOTAL TEST DURATION-20 MINUTE
TOTAL MARKS-50
CHACK YOUR RANK AFTER COMPLETE MOCK TEST

Leaderboard: Judiciary Exam Score Booster 155 INDIAN EVIDENCE ACT 1872

maximum of 50 points
Pos. Name Entered on Points Result
Table is loading
No data available

मुख्य परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण प्रश्न 

अब प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी के साथ साथ मुख्य परीक्षा की तैयारी भी कीजिए

भारतीय साक्ष्य अधिनियम 1872

आपको कल 19/08/2020 दोपहर 3:00 बजे तक आंसर लिखकर सबमिट करने हैं इसके पश्चात आपके आंसर स्वीकार नहीं किए जाएंगे

Question 1. निम्नलिखित प्रश्नों के संक्षेप में उत्तर दीजिए-
(a) पाकला नारायण स्वामी बनाम एंपरर में निर्णय
(b) कक्षीकार ( client ) ‘ क ‘ अटर्नी ‘ ख ‘ से कहता है , ” मैंने कूट रचना की है और मैं चाहता हूँ कि आप मेरी प्रतिरक्षा करें । ” क्या ‘ क ‘ का यह प्रकटन संरक्षित है ? यदि हाँ तो इसका कारण बताइये ।
(c) चुराए हुए माल पर जिस मनुष्य का चोरी के शीघ्र उपरांत कब्जा है और वह अपने कब्जे का कारण नहीं बता सकता है तो न्यायालय क्या उपधारित कर सकेगा ?

Question 2. परिस्थितिजन्य साक्ष्य का क्या तात्पर्य है | Hint Sec 6,7,8

Question 3. स्वीकृति कौन कर सकता है या किसकी स्वीकृति साक्ष्य हो सकती है संक्षेप में समझाइए ?
Hint Sec 18,19,20

Question 4. लोकलक्षी एवं व्यक्तिलक्षी निर्णय क्या होते हैं, दोनों में अंतर स्पष्ट करते हुए संक्षेप में समझाइए | Hint Sec 41

निर्देश – Legal Buzz एप्लीकेशन एक अभ्यास पोर्टल है न की Content Provider, जो आपको मुख्य परीक्षा की तैयारी की दृष्टि से छोटे-छोटे नियमित Task प्रदान करता है, हम किसी भी प्रश्न का उत्तर पहले आपको नहीं बताएंगे, आपको जो आता है उसका उत्तर लिखने की कोशिश करें, एवं सबमिट करें हमारे विशेषज्ञ आपके उत्तर की जांच करेंगे और यदि वह उत्तर से संतुष्ट नहीं होते हैं तो सही उत्तर आपको भेजेंगे |

कृपया किसी भी प्रकार के प्रश्न के उत्तर के लिए पहले अनुरोध ना करें केवल प्रयास कर उत्तर लिखकर सबमिट करने वाले विद्यार्थियों को ही मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है |

यदि आपको इन प्रश्नों के उत्तर नहीं आते हैं तो कृपया पाठ्य पुस्तकों या इंटरनेट की सहायता लें एवं उन्हें पढ़े तत्पश्चात लिखने का प्रयास करें बार-बार अभ्यास करना सफलता की कुंजी है |

इन प्रश्नों के उत्तर लिखने के पश्चात आप हमें अपने उत्तर का फोटो खींचकर नीचे दिए गए ईमेल पते पर भेजें

legalbuzznow@gmail.com

हमारे विशेषज्ञ आपके दिए गए उत्तरो की जांच करेंगे एवं आपको अंक एवं मार्गदर्शन प्रदान करेंगे

OUR LAW EXPERT

  1. Gopal Sharma Associate Professor NLU JODHPUR
  2. Ms. Vinita Hada Assistant Professor (Law Department) University Of Kota
  3. Prof. Balraj Chauhan Dharmashastra National Law University (DNLU) at Jabalpur 

⏳ पिछले लीगल बज्ज ऑनलाइन मॉक टेस्ट

IMG-20221126-WA0000
IMG-20221126-WA0002
IMG-20221126-WA0001
IMG-20221011-WA0005
IMG-20221126-WA0003
IMG-20221011-WA0000

TAGS

#IPC1860 #CRPC1973 #CPC1908 #EVIDENCEACT1872 #CONSTITUTION #TRANSFEROFPROPERTYACT1882 #CONTRACTACT1872 #LIMITATIONACT1963 #SPECIFICRELIFACT #JUDICIARY #LAWEXAM #ONLINEMOCKTEST #JUDGE #LEGALBUZZNOW #ADVOCATELAW #JUSTICE #LEGALPROFESSION #COURTS #JUDICIAL #LAWYERS #LEGAL #LAWYER #LAWFIRM #SUPREMECOURT #COURT #LAWSTUDENTS #INDIANLAW #SUPREMECOURTOFINDIA #UGCNET #GK #ONLINELAWCOUCHING #LAWSTUDENTS #SPECIALOFFER #CRIMINALLAW #HUMANRIGHTS #CRPC #INTELLECTUALPROPERTY #CONSTITUTIONOFLNDIA #FAMILYLAW #LAWOFCONTRACT #PUBLICINTERESTLAWYERING #TRANSFEROFPROPERTY #LAWOFTORTS #LAWOFCRIME #COMPANYLAW #LEGALSCHOOL #ELEARNING #LAW #ONLINEEDUCATION #DIGITALLAWSCHOOL #LAWSCHOOL #LEGAL #ONLINELEGALPLATFORM #INDIALAW #DIGITALLNDIA FOR RJS MPCJ UPPCSJ CHATTISGARAH UTRAKHAND JHARKHAND BIHAR JUDICIARY EXAMS RJS MPCJ UPCJ LAW COACHING JAIPUR JUDICIARY EXAM LAW QUIZ free online mock test for civil judge pcs j online test in hindi delhi judicial services mock test up pcs j online test

Website Total Views

  • 1,352,632
📢 EXAM ALERT