28 May
2019

जुडिशरी एग्जाम स्कोर बूस्टर लीगल बज्ज मॉक टेस्ट 27

जुडिशरी एग्जाम स्कोर बूस्टर लीगल बज्ज मॉक टेस्ट 27

KICK START YOUR PREPARATION WITH LEGAL BUZZ

Leaderboard: जुडिशरी एग्जाम स्कोर बूस्टर लीगल बज्ज मॉक टेस्ट 27

maximum of 20 points
Pos.NameEntered onPointsResult
Table is loading
No data available

LEGAL BUZZ QUIZ 1▶
📋 IPC 1860
यदि Actus non facit reum nisi nmends menas sit rea आपराधिक विधि का मुख्य सिद्धान्त है तो निम्नलिखित में से कौन – सा कथन उपरोक्त सिद्धान्त को सही ढंग से परिवर्तित करता है ।
( अ ) Mens rea अपराध का आवश्यक तत्व है और Mens rea के बिना कोई अपराध नहीं हो सकता है ।
( ब ) भारतीय विधि के अन्तर्गत आपराधिक दायित्व में Mens rea हमेशा अन्तर्वलित रहता है । ( स ) अपराध घटित करने के लिए actius reus और Mens rea होना चाहिए । ☑
( द ) अपराध को गठित करने के लिए actus reus हमेशा आवश्यक नहीं होता है ।
👉 अपराध घटित करने के लिए actus reus और Mens rea होना चाहिए ।
व्याख्या – इस सूक्ति का अर्थ है दोषपूर्ण कार्य और दोषपूर्ण चित्त साथ – साथ मिलकर अपराध गठित करते हैं ।

LEGAL BUZZ QUIZ 2▶
📋 IPC 1860
कॉमन लॉ में निम्नलिखित में से कौन प्रतिनिधिक दायित्व का अपवाद नहीं है ?
( अ ) प्राइवेट न्यूसेन्स । | ☑
( ब ) अपमान लेख ।
( स ) न्यायालय की अवमानना
( द ) लोक न्यूसेन्स
👉 व्याख्या – प्रतिनिधिक दायित्व के अपवाद हैं ( i ) लोक अपताप , ( ii ) आपराधिक अपलेख , ( iii ) न्यायालय की मानहानि ।

LEGAL BUZZ QUIZ 3▶
📋 IPC 1860
किसी व्यक्ति को शारीरिक क्षति के भय में डालकर बेईमानी के आशय से अपनी सम्पत्ति देने के लिए उत्प्रेरित करना अपराध है
( अ ) चोरी का
( ब ) आपराधिक दुर्विनियोजन का
( स ) उद्दापन का ☑
( द ) आपराधिक अभित्रास का
👉 धारा 383 में ‘ उद्दापन ‘ परिभाषित है , जो इस प्रकार है – ” जो कोई किसी व्यक्ति को या किसी अन्य व्यक्ति को कोई क्षति करने के भय में साशय डालता है और तद्द्वारा इस प्रकार भय में डाले गये व्यक्ति को कोई सम्पत्ति या मूल्यवान प्रतिभूति या हस्ताक्षरित या मुद्रांकित कोई चीज , जिसे मूल्यवान प्रतिभूति में परिवर्तित किया जा सके , किसी व्यक्ति को परिदत्त करने के लिए बेईमानी से उत्प्रेरित करता है , वह उद्दापन करता है ।

LEGAL BUZZ QUIZ 4▶
📋 CRPC 1973
दण्ड प्रक्रिया संहिता , 1973 की धारा 439 के अन्तर्गत जमानत स्वीकृत करने का अधिकार निहित है ?
( अ ) उच्च न्यायालय में
( ब ) सेशन न्यायालय में
( स ) मजिस्ट्रेट में
( द ) उपर्युक्त ‘ अ ‘ तथा ‘ ब ‘ दोनों में ।☑
👉 धारा 439
जमानत के बारे में उच्च न्यायालय या सेशन न्यायालय की विशेष शक्तियां – धारा 439 के अनुसार उच्च न्यायालय या सेशन न्यायालय यह निदेश दे सकता है कि
( क ) किसी ऐसे व्यक्ति को , जिस पर किसी अपराध का अभियोग है और जो अभिरक्षा में है , जमानत पर छोड़ दिया जाए और वह ऐसी कोई शर्त जो आवश्यक समझे , अधिरोपित कर सकता ( ख ) किसी व्यक्ति को जमानत पर छोड़ने के समय मजिस्ट्रेट द्वारा अधिरोपित कोई शर्त अपास्त या उपातरित कर दी जाए ; परन्तु उच्च न्यायालय या सेशन न्यायालय किसी ऐसे व्यक्ति की जो ऐसे अपराध का अभियुक्त है जो अनन्यतः सेशन न्यायालय द्वारा विचारणीय है या जो आजीवन कारावास से दण्डनीय है , जमानत स्वीकृति के पूर्व जमानत के लिए आवेदन की सूचना लोक अभियोजन को उस दशा के सिवाय देगा जब उसकी , ऐसी कारणों से , जो लेखबद्ध किए जाएंगे यह राय है कि ऐसी सूचना देना साध्य नहीं है । ( धारा 439 ( 1 )

LEGAL BUZZ QUIZ 5▶
📋 CRPC 1973
दण्ड प्रक्रिया संहिता की किन धाराओं में सत्र न्यायालय के समक्ष विचारण की प्रक्रिया का प्रावधान किया गया है ?
( अ ) 260 से 265
( ब ) 238 से 250
( स ) 251 से 259
( द ) 225 से 237 ☑

LEGAL BUZZ QUIZ 6▶
📋 CRPC 1973
सीआरपीसी में पूर्व दोषसिद्ध को साबित करने से सम्बन्धित कौन – सा प्रावधान है ?
( अ ) धारा 296
( ब ) धारा 297
( स ) धारा 298 ☑
( द ) धारा 299
👉 धारा 298

LEGAL BUZZ QUIZ 7▶
📋 EVIDENCE ACT 1872
निम्नलिखित में से कौन द्वितीय साक्ष्य नहीं की जा सकती है ?
( अ ) प्रतिलिपि से तैयार की गई प्रति ☑
( ब ) मूल से तैयार की प्रति
( स ) प्रतिलिपि से तैयार की गई प्रति जिसकी मूल से तुलना कर ली गई है
( द ) मूल से तुलना की गई प्रति
👉 धारा 63
द्वितीयक साक्ष्य ( धारा 63 )- द्वितीयक साक्ष्यक ( Secondary Evidence ) से अभिप्रेत है और उसके अन्तर्गत आते हैं
( 1 ) दस्तावेज की प्रमाणित प्रतियां
( 2 ) यांत्रिक प्रक्रिया द्वारा मूल से बनाई गई प्रतिलिपि :
( 3 ) मूल से बनाई गई या तुलना ( मिलान ) की गई प्रतियां
( 4 ) उन पक्षकारों के विरुद्ध जिन्होंने उन्हें निष्पादित नहीं किया है , दस्तावेजों के प्रतिलेख ( 5 ) किसी दस्तावेज की अन्तर्वस्तु का उस व्यक्ति द्वारा , जिसने स्वयं उसे देखा है , दिया हुआ मौखिक वृत्तान्त

LEGAL BUZZ QUIZ 8▶
📋 EVIDENCE ACT 1872
अधिनियम में परिभाषित नहीं है ।
( अ ) संस्वीकृति ☑
( ब ) न्यायालय
( स ) तथ्य
( द ) भारत
👉 धारा 3

LEGAL BUZZ QUIZ 9▶
📋 EVIDENCE ACT 1872
धारा 113 – ब दहेज हत्या की उपधारणा भारतीय साक्ष्य अधिनियम में जोड़ी गई
( अ ) 1986 में ☑
( ब ) 1983 में
( स ) 1961 में
( द ) 1962 में

LEGAL BUZZ QUIZ 10▶
📋 CPC 1908
डीम्ड डिक्री से अभिप्रेत है
( अ ) न्यायालय का अन्तिम निर्णय
( ब ) न्यायालय का अन्तिम आदेश ☑
( स ) निर्णय का प्रथम पैराग्राफ
( द ) निर्णय का अन्तिम पैराग्राफ जब तक डिक्री तैयार की जाए
👉 धारा 2(2) तथा आदेश 21 नियम 58(4)
आज्ञप्ति ( Decree )-आज्ञप्ति से ऐसे न्याय निर्णयन की औपचारिक अभिव्यक्ति अभिप्रेत है , जो कि वाद में के सब या किन्हीं विवादास्पद विषयों के संबंध में पक्षकारों के अधिकारों को वहाँ तक निश्चायक रूप से अवघारित करता है , जहाँ तक कि उसे अभिव्यक्त करने वाले न्यायालय का संबंध है और वह प्रारम्भिक या अन्तिम हो सकेगी और इसके अन्तर्गत
( i ) वाद पत्र को नामंजूर किया जाना और
( ii ) धारा 144 के अन्तर्गत किसी प्रश्न का अवधारण आता है ,
किन्तु इसके अन्तर्गत –
( क ) न तो कोई ऐसा न्याय निर्णयन आएगा , जिसकी अपील , आदेश की अपील की भाँति होती है , और
( ख ) न व्यतिक्रम के लिए खारिज करने का कोई आदेश आएगा

LEGAL BUZZ QUIZ 11▶
📋 CPC 1908
व्यवहार प्रक्रिया संहिता , 1908 के अन्तर्गत औपचारिक रूप से सम्मनस् की तामीली के पश्चात् कितने समय में लिखित कथन पेश करना बताया गया है ?
( अ ) 30 दिन ☑
( ब ) 45 दिन
( स ) 60 दिन
( द ) उपर्युक्त में से कोई नहीं
👉 आदेश 8 नियम 1
लिखित कथन की अन्तर्वस्तुएं : प्रत्येक लिखित कथन में निम्नलिखित बातों की प्रविष्टि को आवश्यक माना गया है –
( i ) नए तथ्यों का विशेष रूप से अभिवचन किया जाना चाहिए ,
( ii ) प्रत्याख्यान स्पष्ट रूप का होना चाहिए ,
( iii ) वाग्छलपूर्ण प्रत्याख्यान नहीं किया जाना चाहिए ,
( iv ) प्रत्याख्यान विशिष्ट रूप से किया जाना चाहिए ,
( v ) प्रतिसादन ( मुजरा ) की विशिष्टियों को लिखित कथन में दिया जाना चाहिए ।

LEGAL BUZZ QUIZ 12▶
📋 CPC 1908
निष्पादन विक्रय के आगमों का डिक्रीधारकों के बीच आनुपातिक वितरण करने का प्रावधान है ?
( अ ) धारा 60
( ब ) धारा 73 ☑
( स ) धारा 75
( द ) धारा 80
👉 धारा 73

LEGAL BUZZ QUIZ 13▶
📋 CONSTITUTION
संविधान के अनुच्छेद 226 के अन्तर्गत उच्च न्यायालय निम्नलिखित में से किसके विरुद्ध रिट जारी कर सकती है ?
( अ ) व्यक्ति
( ब ) सरकार
( स ) पदाधिकारी
( द ) उक्त सभी ☑
👉 अनुच्छेद 226
व्याख्या – संविधान के अनुच्छेद 226 के तहत उच्च न्यायालय व्यक्ति , सरकार पदाधिकारी एवं संगठित निकाय के विरुद्ध रिट जारी कर सकता

LEGAL BUZZ QUIZ 14▶
📋 CONSTITUTION
राज्य के नीति निदेशक तत्वों को लागू करना किसका कर्तव्य है ?
( अ ) किसी का नहीं
( ब ) राज्य का ☑
( स ) केन्द्रीय शासन का ही केवल
( द ) भारत के सभी नागरिकों का

LEGAL BUZZ QUIZ 15▶
📋 CONSTITUTION
राज्यसभा की अस्वीकृति होते हुए भी निम्नलिखित विधेयक में कौन – सा कानून बन सकता है ?
( अ ) समाज सुधार संबंधी विधेयक
( ब ) सांविधानिक संशोधन
( स ) वित्त विधेयक
( द ) इनमें से कोई नहीं ☑
👉 समाज सुधार सम्बन्धी विधेयक सांविधानिक संशोधन एवं वित्त विधेयक सभी में राज्यसभा की स्वीकृति आवश्यक है ।

LEGAL BUZZ QUIZ 16▶
📋 CONSTITUTION
कोई विधि जो संसद , अनुच्छेद 356 ( 1 ) के अन्तर्गत जारी की गई उद्घोषणा के दौरान राज्य सूची के विषय पर बनाती है , वह उद्घोषणा निष्प्रभावी हो जाने के बाद भी प्रभावी रहेगी
( अ ) छः माह तक
( ब ) एक वर्ष तक
( स ) जब तक राज्य विधान मण्डल द्वारा बदली न जाए । ☑
( द ) जय तक संसद द्वारा न बदली जाए ।
👉 व्याख्या – संविधान के अनुच्छेद 357 ( 2 ) के अनुसार कोई विधि जो संसद अनुच्छेद 366 ( 1 ) के अन्तर्गत जारी की गई उद्घोषणा के दौरान राज्य सूची के विषय पर बनाती है वह उद्घोषणा निष्प्रभावी हो जाने के बाद भी प्रभावी रहेगी , जब तक राज्य विधानमण्डल द्वारा बदली न जाए ।

LEGAL BUZZ QUIZ 17▶
📋 CONSTITUTION
राष्ट्रपति शासन लागू होने पर राज्य का बजट पारित किया जाएगा
( अ ) विधान परिषद द्वारा
( ब ) राज्यसभा द्वारा
( स ) संसद द्वारा ☑
( द ) उपर्युक्त सभी
👉 राष्ट्रपति शासन लागू होने पर राज्य का बजट संसद द्वारा पारित किया जाता है , क्योंकि राष्ट्रपति शासन लागू होने पर राज्य की व्यवस्था केन्द्र के निर्देशानुसार चलती है ।

LEGAL BUZZ QUIZ 18▶
📋 CONSTITUTION
सर्वप्रथम किस राज्य में संवैधानिक तंत्र विफल होने पर राष्ट्रपति शासन लागू किया गया था ? ( अ ) केरल ( ब ) पंजाब ☑
( स ) आंध्रप्रदेश
( द ) महाराष्ट्र

LEGAL BUZZ QUIZ 19▶
📋 CONSTITUTION
संविधान के अनुच्छेद 356 के अन्तर्गत राष्ट्रपति शासन किसी राज्य में कितने समय के लिए वैध रहता है ?
( अ ) एक वर्ष
( ब ) दो वर्ष
( स ) छः माह ☑
( द ) नौ माह
👉 अनुच्छेद 356 (4)

LEGAL BUZZ QUIZ 20▶
📋 CONSTITUTION
भारतीय संविधान के अनुच्छेद 356 के अन्तर्गत राष्ट्रपति शासन राज्य में किसी भी दशा में . . . . . . . . से अधिक प्रवृत्त नहीं रहेगा ?
( अ ) एक वर्ष
( ब ) दो वर्ष
( स ) छः माह
( द ) तीन वर्ष ☑
👉 अनुच्छेद 356 (4)

⏳ पिछले लीगल बज्ज ऑनलाइन मॉक टेस्ट

🌐 मॉक टेस्ट पासवर्ड प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

🍿POPCORNS

🔮 Fresh Buzz

Groups ज्वाइन करने के लिए नीचे दी गई URL कॉपी करें और अपने इंटरनेट Web ब्राउजर पर ओपन करे

Bit.ly/2WRwCn6
Bit.ly/3xXcNIr

TAGS

#IPC1860 #CRPC1973 #CPC1908 #EVIDENCEACT1872 #CONSTITUTION #TRANSFEROFPROPERTYACT1882 #CONTRACTACT1872 #LIMITATIONACT1963 #SPECIFICRELIFACT #JUDICIARY #LAWEXAM #ONLINEMOCKTEST #JUDGE #LEGALBUZZNOW #ADVOCATELAW #JUSTICE #LEGALPROFESSION #COURTS #JUDICIAL #LAWYERS #LEGAL #LAWYER #LAWFIRM #SUPREMECOURT #COURT #LAWSTUDENTS #INDIANLAW #SUPREMECOURTOFINDIA #UGCNET #GK #ONLINELAWCOUCHING #LAWSTUDENTS #SPECIALOFFER #CRIMINALLAW #HUMANRIGHTS #CRPC #INTELLECTUALPROPERTY #CONSTITUTIONOFLNDIA #FAMILYLAW #LAWOFCONTRACT #PUBLICINTERESTLAWYERING #TRANSFEROFPROPERTY #LAWOFTORTS #LAWOFCRIME #COMPANYLAW #LEGALSCHOOL #ELEARNING #LAW #ONLINEEDUCATION #DIGITALLAWSCHOOL #LAWSCHOOL #LEGAL #ONLINELEGALPLATFORM #INDIALAW #DIGITALLNDIA FOR RJS MPCJ UPPCSJ CHATTISGARAH UTRAKHAND JHARKHAND BIHAR JUDICIARY EXAMS RJS MPCJ UPCJ LAW COACHING JAIPUR JUDICIARY EXAM LAW QUIZ free online mock test for civil judge pcs j online test in hindi delhi judicial services mock test up pcs j online test

  • 842,590 Total Views
📢 EXAM ALERT